आत्महत्या : कारण , पहचान और निदान

मनोचिकित्सया ने यह माना है कीं ९०% आत्महत्या मानसिक रोग के कारण से होते हैं, जिसे वो अवसाद कहते हैं. १०% हीं आत्महत्या अचानक आवेग में किये जाते हैं. इसलिए हम उन ९०% लोगों को समझने का प्रयास करते हैं क्यूंकि इसकी पहचान हम कर सकते हैं जो मनोचिक्सक के द्वारा दवा से या सलाह मश्वोरा कर रोक सकते हैं.