ताजा समाचार
Wednesday, May 18, 2022
  • मुंडका अग्निकांड में बहादुरी दिखाने वाले लोगों से मिले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल
  • रक्षा मंत्री ने मुंबई में दो स्वदेशी युद्धपोतों ‘सूरत’ और ‘उदयगिरि’ को लॉन्च किया
  • मुंडका आग : उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने तीन अधिकारियों को सस्पेंड किया
संपादक
नीरज महाजन

अपराध

नेतृत्व कहानी


मुंबई माफिया का हर राज करती है तार-तार किताब मुं’भाई
Taaza Khabar News
  • Free Matrimonial Advertisement

    Advertise Here For Bride & Grooms Free
  • Free Remembrance Advertisement

    Advertise Here For Remembrance Free
  • Free Matrimonial Advertisement

    Advertise Here For Bride & Grooms Free
Facebook Twitter Youtube Google-Plus Linkedin Whatsapp

Loading crossword puzzle. One moment please.

होट डील


Sunanda-Pushkar-PTI-2

राजधानी की एक अदालत ने यहां पर दिल्ली पुलिस को सुनंदा पुष्कर हत्याकांड मामले में तीन संदिग्धों का पॉलीग्राफ परीक्षण कराने की अनुमति दे दी है। इन तीनों संदिग्धों को सुनंदा के पति और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर का करीबी माना जाता है। महानगर दंडाधिकारी सुनील कुमार शर्मा ने बंद कमरे में सुनवाई के दौरान तीनों युवकों की सहमति के बाद दिल्ली पुलिस को उनके पॉलीग्राफ परीक्षण की अनुमति दे दी।

पुलिस ने पिछले सप्ताह सुनंदा हत्याकांड मामले में तीनों संदिग्धों की सत्य परीक्षण जांच (लाइ डिटेक्शन टेस्ट) की मांग करते हुए अदालत में एक प्रार्थना पत्र दिया था। इन तीन संदिग्धों में थरूर के घरेलू सहायक नारायण सिंह, चालक बजरंगी और उनके दोस्त संजय दीवान का नाम शामिल है।

सूत्रों के मुताबिक अदालत ने पुलिस को आदेश दिया है कि वह सत्य परीक्षण जांच करने से दो दिन पहले संदिग्धों को सूचित कर दे।

अदालत ने पुलिस को यह भी आदेश दिया कि वह संदिग्धों के वकील को इस परीक्षण के दौरान मौजूद रहने की अनुमति दे।

अदालत ने कहा कि तीनों संदिग्धों के वकील उस परिसर में मौजूद रहेंगे जहां पर उनकी सत्य परीक्षण जांच की जाएगी, ताकि वे अपने मुवक्किलों के बयान सुन सकें।

तीनों युवकों के वकील ने अदालत में कहा कि वे यह परीक्षण कराने के लिए तैयार हैं लेकिन पुलिस को इस दौरान सर्वोच्च न्यायालय और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) द्वारा जारी दिशानिर्देशों का पालन करना होगा।

अदालत ने पुलिस से दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए कहा।

पुलिस तीनों आरोपियों से इस मामले में पहले भी पूछताछ कर चुकी है।

पुलिस ने ताजा याचिका में कहा था कि संदिग्ध सुनंदा पुष्कर के शरीर पर चोट के निशान सहित मामले से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण तथ्य छिपा रहे हैं।

धवन के वकील अमन सरीन ने कहा कि उनके मुवक्किल इस परीक्षण के लिए तैयार हैं साथ ही उन्होंने अदालत को बताया कि वे जांच एजेंसी का पूरा सहयोग करेंगे।

परीक्षण के लिए सहमति जताते हुए बचाव पक्ष के वकील ने अदालत में कहा कि सर्वोच्च न्यायालय ने व्यवस्था दी है कि पॉलीग्राफ परीक्षण सबूतों पर भरोसा कर नहीं किया जाना चाहिए, लेकिन अगर पुलिस यह परीक्षण करना चाहती है तो वे इसके लिए तैयार हैं।

वकील ने अदालत से आग्रह किया कि वह पुलिस को आदेश दे कि परीक्षण के दौरान पूछे गए सवालों के बारे में अदालत को सूचित करे।

सुनंदा पुष्कर दिल्ली के एक आलीशान होटल में 17 जनवरी 2015 को मृत मिली थीं। पुलिस ने एक जनवरी 2015 को हत्या का मामला दर्ज किया था।


20% Off


20% Off


20% Off

टाईम पास

Highest Cricket ground in the world

Chailcricketground

A 200-year-old Cricket Ground at Chail Military School in Himachal Pradesh is the highest in the world. It was built by Maharaja of Patiala Bhupinder Singh, who developed Chail as his summer capital. Chail Military School formerly called King George Royal Indian Military College is the oldest military school in India.

 

FacebookTwitterEmailLinkedIn


Taaza Khabar News